नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों ने बुलाया जन-आक्रोश

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-28 11:19:30
 नोटबंदी के खिलाफ विपक्षी दलों ने बुलाया जन-आक्रोश

नई दिल्ली। मोदी सराकर द्वारा कालेधन पर लगाम लगाने के लिए 500-1000 के नोट बंद करने का ऐलान कर दिया था। इसके बाद पूरे विपक्ष दल एक जुट हो गया है। सभी विपक्षी दल पीएम मोदी के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ हैं और फैसले को वापस लेने की मांग कर रहे हैं।  

नोटबंदी पर कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने आज जन-आक्रोश दिवस बुलाया है। आक्रोश दिवस के जरिए विपक्षी दल सरकार को नोटबंदी के मुद्दे पर घेरने की कोशिश करेंगे। उधर, वामदलों ने 12 घंटे का भारत बंद बुलाया है। हालांकि नोटबंदी पर बंद को लेकर विपक्ष दो फाड़ भी हो गई है।

दिवस के जरिए सरकार को अपनी ताकत दिखाने की कोशिश करेंगे। दिल्ली से लेकर पटना, कोलकाता तक आक्रोश दिवस पर विपक्ष ने मार्च और संसद घेराव का प्लान तैयार कर रखा है। भारत बंद के तहत बिहार के दरभंगा में सीपीआई (एमएल) ने ट्रेन रोक दिया और प्रदर्शन करने लगे।

सपा ने भी लखनऊ में ट्रेन रोककर नारेबाजी की। नोटबंदी के फैसले के विरोध में विपक्ष संसद में भी हंगामा कर रही है, जिसके कारण संसद का कामकाज भी प्रभावित हो रहा है। वहीं, नोटबंदी के खिलाफ आज केरल में राज्‍यव्‍यापी हड़ताल होगी। राज्‍य में सत्‍ताधारी सीपीएम ने फैसला लिया है कि हड़ताल के दौरान बैं‍क, शादियां, अस्‍पताल, दूध और अखबार विक्रेताओं को छूट रहेगी।

रविवार को पीएम मोदी ने 'मन की बात' में नोटबंदी पर बात की थी। कुशीनगर रैली में भी उन्होंने कहा ये मुद्दा उठाया।  विपक्ष के भारत बंद करने पर उन्होंने कहा था कि एक तरफ हम कालेधन और भ्रष्टाचार का रास्ता बंद करने में लगे हैं और वो (विपक्ष) भारत बंद करने में लगी है।











राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार