Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

पाक युवती ने लिंग परिवर्तन के लिए कोर्ट में दाखिल की याचिका

Edited By: Editor
Updated On : 2016-11-06 09:21:21
पाक युवती ने लिंग परिवर्तन के लिए कोर्ट में दाखिल की याचिका
पाक युवती ने लिंग परिवर्तन के लिए कोर्ट में दाखिल की याचिका

लाहौर। पाकिस्तान में एक 24 वर्षीया युवती ने लाहौर हाई कोर्ट में लिंग परिवर्तन कराने के लिए याचिका दाखिल की है। इसमें उसने अपना लिंग परिवर्तन कराने के लिए अदालत से मंजूरी देने की मांग की है।

दरअसल, पाक एक रूढि़वादी देश है और यहां के डॉक्टर कोर्ट की अनुमति बिना युवती का लिंग परिवर्तन करने वाली सर्जरी करने से इन्कार कर चुके हैं। युवती ने अधिवक्ता नसीर हुसैन सिंधू के जरिए यह अर्जी दायर की है।

लाहौर से 40 किमी दूर कसूर जिले की रहने वाली युवती ने कहा कि वह 14 साल की उम्र से अपने शरीर में परिवर्तन महसूस कर रही है। लगातार दर्द और जेंडर डिसआर्डर का अहसास होने के बाद उसने एक निजी अस्पताल में स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श किया।

फातिमा मेमोरियल अस्पताल, लाहौर की डॉक्टरों ने मुझे तत्काल लिंग परिवर्तन के लिए सर्जरी कराने की सलाह दी। हालांकि मैंने जिन-जिन सर्जन से संपर्क किया, उन्होंने खुद के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की आशंका के चलते ऑपरेशन करने से इन्कार कर दिया।

वे इसे लेकर स्पष्ट नहीं थे कि इस संबंध में कानून क्या कहता है? डॉक्टरों ने मुझे सलाह दी कि पहले मैं अदालत से सर्जरी की अनुमति लेकर आऊं, तब वे ऑपरेशन करेंगे।

युवती के अधिवक्ता सिंधू का कहना है कि पाकिस्तानी कानून में लिंग परिवर्तन के लिए सर्जरी कराने पर कोई रोक नहीं है, लेकिन इस तरह की बातों (लिंग परिवर्तन) को लेकर कुछ सामाजिक बंधन जुड़े हैं, जिसके चलते आमतौर पर सर्जन आशंकित रहते हैं। यहां तक कि वे ऐसा काम करने से दूर भागते हैं।

 


दुनिया पर शीर्ष समाचार