पीटरसन पर लगा मैच फिक्स करने का आरोप

Edited by: Editor Updated: 13 Nov 2016 | 08:36 PM
detail image

नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज़ एल्वीरो पीटरसन को मैच फिक्सिंग का दोषी पाया गया है। क्रिकेट साउथ अफ्रीका (सीएसए) ने उन पर 2015 में रेम स्लेम टी20 टूर्नामेंट के दौरान मैच फिक्स करने का आरोप लगाया गया है।

दक्षिण अफ्रीकी बोर्ड की जांच के बाद पीटरसन के अलावा कई अन्य खिलाड़ीयों को भी मैच फिक्सिंग का आरोपी पाया गया है। और इन सभी खिलाड़ियों पर बोर्ड ने प्रतिबन्ध लगा दिया है। अफ्रीकी बोर्ड के अनुसार "काफी लम्बी जांच पड़ताल के बाद पीटरसन और अन्य खिलाड़ियों को मैच फिक्स करने का दोषी पाया गया है"

पीटरसन का मानना है कि उनके खिलाफ कोई भी जांच पड़ताल नहीं की गई है। जैसा कि उन्होंने दक्षिण अफ़्रीकी क्रिकेटर्स एसोसिएशन के सीईओ, टोनी आयरिश को भी यही बताया कि उनके खिलाफ कैसी भी छानबीन नहीं की गयी है।

आपको बता दें कि पीटरसन पर यह आरोप 2015 में हुई रैम स्लैम टी-20 चैलेज सीरीज में की मैच को फिक्स करने की गतिविधियों में शामिल होने के लिए लगाया गया है। हालंकि पीटरसन को उनपर लगे आरोपों पर उनकी प्रतिक्रिया लेने के लिए 14 दिनों का वक़्त दिया है। इसके साथ-साथ ही उनको घरेलू क्रिकेट खेलने से भी रोक दिया गया है और उनको किसी भी टीम का कोच बनने से भी रोक दिया गया है।

पीटरसन के अलावा उनकी टीम के साथी खिलाड़ी गुलाम बोदी, जीन सयिम्स, पुमेलेला मतशिकवे, एथी मबलाती और विकेटकीपर थामी सोलेकिले जैसे खिलाड़ियों को भी मैच फिक्सिंग का दोषी पाया जा चुका है।