प्रतुल ने अपने भाई को हराकर रचा अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन में इतिहास

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-03 16:55:34
 प्रतुल ने अपने भाई को हराकर रचा अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन में इतिहास

अल्मोड़ा। एक बड़े भाई ने छोटे भाई को हारकार अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन में इतिहास रच दिया है। बैडमिंटन वर्ड फैडरेशन की बहरीन में हुई अंतर्राष्ट्रीय बैडमिंटन चैलेंज प्रतियोगिता का खिताब अल्मोड़ा के प्रतुल जोशी ने जीत इतिहास। फाइनल मुकाबले में प्रतुल ने भाई आदित्य को संघर्षपूर्ण फाइनल में हराकर खिताब हासिल किया।

फाइनल मुकाबले में प्रतुल ने अपने छोटे भाई आदित्य को 21-17, 12-21, 21-15 से हराकर खिताब अपने नाम कर लिया। बहरीन अंतरराष्ट्रीय बैडमिन्टन प्रतियोगिता में यह पहली बार हुआ है कि सीनियर वर्ग की पुरूष एकल मुकाबले में दो भाई फाइनल मुकाबले में आमने-सामने रहे।

इन दोनों जोशी भाइयों के बीच किसी अंतरराष्ट्रीय टूर्नामेंट में यह दूसरी भिड़ंत थी। इससे पहले पुणे में 2012 में प्रतुल ने आदित्य को सुशांत छिपालकट्टी़ जूनियर इंटरनेशनल टूर्नामेंट में सीधे गेमों में हराया था।


खेल पर शीर्ष समाचार