जेल में रह कर भी पढ़ाई पूरी कर सकते है कैदी

Edited by: Editor Updated: 07 May 2017 | 03:39 PM
detail image

बांदा। मंडल कारागार में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा विधिक साक्षरता शिविर आयोजित किया गया। जेल अधीक्षक ने बताया कि जो बंदी आगे की शिक्षा जारी रखना चाहते हैं वह अपना फार्म भर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- बूंद-बूंद पानी के लिए जूझ रहा है बुंदेलखंड, पशु-पक्षी भी परेशान

कार्यक्रम में विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव खलीकुज्जमा ने बताया कि यह भारत सरकार की योजना है। इसका उद्देश्य देश की गरीब जनता व धन के अभाव में कोई भी न्याय पाने से वंचित न रह जाए। कारागार में निरुद्ध किशोर बंदियों जो हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षा देने के इच्छुक हैं उनसे बात की गई। शिक्षा के संबंध में व्यक्तिगत फार्म भराकर आगे की शिक्षा जारी रखने की भी जानकारी दी गई।

जेल अधीक्षक एचबी सिंह ने बताया कि जेल में ही शिक्षक व कापी किताबों की व्यवस्था है। यूपी बोर्ड परीक्षा का केंद्र जेल में ही है। जो भी बंदी आगे की शिक्षा जारी रखना चाहता है अपना फार्म जेल अधीक्षक के माध्यम से भर सकता है। जेल अधीक्षक ने सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त किया। इस दौरान जेलर विवेकशील त्रिपाठी, उपजेलर वीके सिंह, तारकेश्वर सिंह आदि मौजूद रहे।