सपा से 6 साल के लिए निष्कासित किए गए रामगोपाल यादव

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-23 16:34:56
सपा से 6 साल के लिए निष्कासित किए गए रामगोपाल यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी महासचिव प्रो.रामगोपाल यादव को पार्टी से निष्कासित कर दिया गया। रामगोपाल यादव ने चिट्ठी लिखकर अखिलेश का समर्थन किया था।

रिपोर्ट के मुताबिक मंत्रिमंडल से बर्खास्त किए जाने के बाद शिवपाल यादव सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह से मिले थे और रामगोपाल यादव के खिलाफ पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाया था।

सूत्र बताते हैं कि अपनी शिकायत में शिवपाल यादव ने प्रो. रामगोपाल यादव पर षडयंत्र करने का आरोप लगाया था और उनको तिकड़मी प्रोफेसर बताते हुए कहा था कि वो उनके खिलाफ साजिश रचते रहते हैं।

शिवपाल यादव ने अपनी शिकायत में कहा  कि राम गोपाल यादव बीजेपी में शामिल होने जा रहे हैं, इसलिए सपा को कमजोर करने में जुटे हैं।

शिवपाल यादव की शिकायत पर तत्काल कार्रवाई करते हुए मुलायम सिंह ने तत्काल प्रभाव से प्रो. राम गोपाल यादव को पार्टी से निष्कासित कर दिया।

इससे पहले शिवपाल समेत 6 लोगों को अखिलेश मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया गया था और जया प्रदा के बाद प्रो. राम गोपाल यादव को पार्टी से निकाल दिया गया।

आपको बता दें कि प्रो. रामगोपाल यादव को पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने के नाते पार्टी महासचिव पद से हटा दिया और 6 सालों के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार