दिसंबर में भी ब्याज दर नहीं घटाएगा रिजर्व बैंक

Edited by: Ankur_maurya Updated: 20 Oct 2017 | 04:33 PM
detail image

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) दिसंबर की पॉलिसी समीक्षा बैठक में नीतिगत दर में कोई कटौती नहीं करने जा रहा है। यह जानकारी RBI की मौद्रिक नीति समिति की अक्तूबर में हुई बैठक में पता चला है।

जापान की वित्तीय सेवाएं देने वाली कंपनी नोमुरा ने एक रिपोर्ट में कहा है कि क्योंकि अर्थव्यवस्था पहली तिमाही में नीचे उतर चुकी है और अक्तूबर में खुदरा महंगाई के तीन प्रतिशत के नीचे रहने की उम्मीद है। जब तक महंगाई 4 प्रतिशत से अधिक नहीं हो जाए, हम दिसंबर की बैठक में भी दरों के अपरिर्वितत रहने की उम्मीद करते हैं।

नोमुरा के मुताबिक समिति के सदस्य रविन्द्र ढोलकिया दर में कमी का पक्ष लेंगे जबकि माइकल पात्रा इसे स्थिर रखने की बात करेंगे। शेष अन्य चार सदस्यों की राय इस बात पर निर्भर करेगी कि वृद्धि का रुख कैसा होता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि ढोलकिया और पात्रा के दृष्टिकोण में मतांतर कायम रहेगा।

ढोलकिया काफी ऊंची दरों का हवाला देकर 40 आधार अंकों की कटौती की वकालत करेंगे जबकि पात्रा दर अपरिर्वितत रखने तथा जरूरत पडऩे पर बढ़ा देने के पक्ष में टिके रहेंगे। उल्लेखनीय है कि रिजर्व बैंक ने चार अक्तूबर को हुई बैठक का विवरण कल जारी किया था। मौद्रिक नीति समिति ने उस बैठक में 5-1 से दर ना बदलने का फैसला लिया था। सरकार द्वारा नामांकित सदस्य ढोलकिया 25 आधार अंकों की कटौती के पक्ष में मतदान करने वाले अकले सदस्य थे।