फिल्म समीक्षा: ऐ दिल है मुश्किल- 'ये फिल्म बड़ी है मुश्किल'

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-28 13:03:11
फिल्म समीक्षा: ऐ दिल है मुश्किल- 'ये फिल्म बड़ी है मुश्किल'

नई दिल्ली। बॉलीवुड निर्माता करण जौहर की फिल्म 'ऐ दिल है मुश्किल' बड़ी मुश्किलों के बाद आखिरकार रिलीज हो ही गई। रिलीज होने से पहले यह फिल्म काफि विवादों में रही थी। उरी हमले के बाद पाक कलाकारों पर लगे बैन कि वजह से करण जौहर को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था। काफी उठापटक के बाद फिल्म रिलीज हो ही गई।

फिल्म रणबीर कपूर, अनुष्का शर्मा, फवाद खान, ऐश्वर्या राय से सजी हुई है। आइए नजर डालते हैं फिल्म की कहानी पर। कहानी शुरु होती है लंदन में रहने वाले आयान (रणबीर कपूर) और आलिजा (अनुष्का शर्मा) की दोस्ती से, जिसमें आलिजा एक बिंदास किस्म की लड़की के रुप में नजर आ रही हैं। आलिजा के नाइट क्लब में जाना पसंद होता है। उसका एक बोरिंग किस्म का ब्वॉयफ्रेंड होता है डॉक्टर अब्बास (इमरान अब्बास)। उधर आयान की एक गर्लफ्रेंड है जिसका नाम है लीजा (लीजा हेडन), जो कुछ ज्यादा ही फैशनेबल है। थोड़े दिनों में आलिजा और आयान को पता चल जाता है कि अब्बास और लीजा उनके टाइप के नहीं हैं।

दोनों का ब्रेकअप हो जाता है और इसके बाद दोनों घूमने के लिए पेरिस चले जाते हैं। वहां आलिजा आयान को बताती है कि वो उसका सबसे अच्छा दोस्त है, लेकिन आयान आलिजा को लेकर इमोशनल हो चुका है। तभी पेरिस में आलिजा की नजर डॉक्टर अली (फवाद खान) पर पड़ती है, जो कभी उसका ब्वॉयफ्रेंड हुआ करता था। आयान आलिजा को पेरिस में छोड़कर लंदन आ जाता है और कुछ दिनों बाद आलिजा का फोन आता है कि वो लखनऊ में अली से शादी कर रही है।

आयान आलिजा की शादी में शामिल होने जाता है और वहां उसको वो यह अहसास दिला देता है कि वो उससे बहुत प्यार करता है। इंटरवल से पहले फिल्म में खूब हंसी मजाक है, लेकिन बाद में सिचुएशन के हिसाब से थोड़ी इंटेंस होने लगती है। फिल्म में ऐश्वर्या राय की एंट्री इंटरवल के बाद होती है। रिपोर्ट के मुलाबिक करण जोहर की यह फिल्म पूरी तरह से यूथ के स्टाइल की है। इस फिल्म में फन है, दोस्ती है, लव है और बहुत सारा दर्द है।


मनोरंजन पर शीर्ष समाचार