सपा में रहूं या न रहूं लेकिन अखिलेश के साथ हमेशा रहूंगाः प्रो. रामगोपाल

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-23 17:53:16
सपा में रहूं या न रहूं लेकिन अखिलेश के साथ हमेशा रहूंगाः प्रो. रामगोपाल

नई दिल्ली/लखनऊ। समाजवादी पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित पूर्व महासचिव रामगोपाल यादव ने कहा कि उन्हें पार्टी से निष्कासित किए जाने का अफसोस नहीं है। मैं पार्टी में रहूं या न रहूं, लेकिन अखिलेश के साथ हमेशा रहूंगा।

राम गोपाल के मुताबिक उन्हें झूठ को आधार बनाकर उन्हें निष्कासित किया गया और उन पर जो भी आरोप लगाए गए हैं वे सारे आरोप बेबुनियाद हैं। उन्होंने अपने बेटे और बहू पर किसी भी मामले में सीबीआई जांच के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि मेरे बेटे और बहू किसी भी आरोप में शामिल नहीं हैं। 

भाई शिवपाल द्वारा बीजेपी में जाने के आरोप पर राम गोपाल यादव ने आगे कहा कि किसी भी दल के नेताओं से मुलाकात करना एक सामान्य बात है, जो हर कोई करता है। बकौल, 'मैं किसी भी सीबीआई जांच का हिस्सा नही हूं, जो मुझे दूसरे पार्टी में जाने की जरूरत पड़े। 

उधर, रामगोपाल यादव को पार्टी से निकाले जाने पर अखिलेश यादव ने नाराजगी जताई है। अखिलेश ने कहा कि वो दो दिनों के भीतर शिवपाल यादव को इसका जवाब देंगे।

आपको बता दें कि शिवपाल यादव की शिकायत पर पार्टी विरोधी गतिविधि में शामिल होने के आरोप पर रामगोपाल यादव को पार्टी महासचिव पद से हटाया गया और उन्हें 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार