Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

बुंदेलखंड दौरे पर गए योगी के काफिले में दिखीं लाल बत्ती वाली गाड़ियां

Edited By: Vijayashree Gaur
Updated On : 2017-04-20 02:40:30
बुंदेलखंड दौरे पर गए योगी के काफिले में दिखीं लाल बत्ती वाली गाड़ियां
बुंदेलखंड दौरे पर गए योगी के काफिले में दिखीं लाल बत्ती वाली गाड़ियां

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीएम बनने के बाद अपने पहले बुंदेलखंड दौरे पर हैं। योगी कुछ देर पहले ही झांसी पहुंचे। योगी के काफिले के दौरान कई गाड़ियों पर अभी भी लाल बत्ती लगी हुई थी। आपको बता दें कि पीएम मोदी ने बुधवार को ही लाल बत्ती कल्चर को बंद करने का फैसला किया था।

यह भी पढ़ें- राज्यरानी के बाद झांसी मंडल ट्रेन के डिब्बे पटरी से उतरे

आपको बता दें कि गुरुवार सुबह ही योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लाल बत्ती कल्चर को खत्म करने के फैसले की तारीफ की थी। योगी ने ट्वीट किया था कि लालबत्ती हटाने के केन्द्र सरकार के ऐतिहासिक फैसले का हम स्वागत करते हैं, हर भारतीय VIP हैं। लक्ष्य अंत्योदय प्रण अंत्योदय पथ अंत्योदय।' गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने बुधवार को सभी नेताओं, मंत्रियों की गाड़ी से लाल बत्ती हटाने का आदेश दिया है।

1 मई से पूरे देश में लाल बत्ती पर रोक लग गई है।फैसले के बाद से केंद्रीय मंत्रियों ने तुरंत लाल बत्ती हटाना शुरू कर दिया। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने इस फैसले पर ट्वीट किया कि हर भारतीय खास और VVIP हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ट्विटर पर अपने एक प्रशंसक के ट्वीट का जवाब दे रहे थे। इसी में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि ऐसे प्रतीक नए भारत की भावना से कटे हुए हैं। ऐसे ही एक अन्य ट्वीट के जवाब में प्रधानमंत्री ने कहा कि यह काफी पहले खत्म हो जाना चाहिए था। खुशी है कि आज एक ठोस शुरुआत हुई है।

यह भी पढ़ें- मंडी सचिव ने बरती लापरवाही, जिलाधिकारी ने किया कार्यमुक्त

उन्होंने कहा कि हर भारतीय खास है। हर भारतीय वीआईपी है।पीएम मोदी के इस आदेश के बाद देशभर में कई नेताओं ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती हटा दी है। केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, महेश शर्मा, मेनका गांधी समेत कई केंद्रीय मंत्री ने इस फैसले का पालन किया तो वहीं महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे समेत कई अन्य नेताओं ने अपनी गाड़ी से लाल बत्ती हटा ली है।

VIP कल्चर खत्म करने में ऐसे निर्णय की बहुत बड़ी आवश्यकता थी। अब सिर्फ एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड और पुलिस जैसी इमरजेंसी सेवाओं में लगी गाडियां ही नीली बत्ती का इस्तेमाल कर सकेंगी। यह फैसला खुद प्रधानमंत्री मोदी ने लिया और इसके बारे में बुधवार को हुई कैबिनेट की बैठक में जानकारी दी। इस फैसले को लागू करने के लिए सेन्ट्रल मोटर वेहिकल रूल 1989 में बदलाव किया जाएगा। इसी नियम के तहत केंद्र सरका र और राज्य सरकारें वीआईपी को गाडियों के ऊपर लाल और नीली बत्ती लगाने की अनुमति देती हैं।

 


बुंदेलखंड पर शीर्ष समाचार


x