अगस्त में होती रही हैं मौते, सिर्फ गैस सप्लाई ही नही थी वज़ह: सिद्धार्थनाथ

Edited by: Ankur_maurya Updated: 12 Aug 2017 | 04:57 PM
detail image

नई दिल्ली। गोरखपुर कांड पर यूपी के स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करत हुए उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी जी यहां 9 जुलाई और 9 अगस्त को भी आए थे। यहां उन्होंने डॉक्टरों से भी चर्चा की थी। उन्होंने कहा कि हमने आंकड़े भी देखने की कोश‌िश की है क्योंक‌ि 20 से 23 बच्चों के मरने की खबर आई है वो चौंकाने वाला मामला है।

उन्होंने कहा कि यह सरकार संवेदनशील है और एक बच्चे की मौत की जांच की वजह भी हमारे ल‌िए बड़ी है। हम 23 मौतों को कम आंकने का प्रयास नहीं कर रहे हैं। 2014 से आंकड़े न‌िकलवाए हैं। अगस्त के महीने में बच्चों की मौतें 19 प्रत‌िद‌िन होता है। 2015 में 22 और 2016 में प्रत‌िद‌िन 19 से ज्यादा है।

यह भी पढ़ें- गोरखपुर: अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से 30 बच्चों की दर्दनाक मौत

इसका यह मतलब ये नहीं है क‌ि हम इसे कम आंक रहे हैं पर आगे का न‌िष्कर्ष न‌िकालने के ल‌िए ऐसा कर रहे हैं। बीआरडी मेड‌िकल कॉलेज में मौतों का आंकड़ा 17 से 18 न‌िकलता है क्योंक‌ि बच्चे यहां कई जगहों से आते हैं। इसके बाद हमने गैस सप्लाई का मैटर भी देखा।

उन्होंने कहा कि 7.30 बजे लिक्व‌िड गैस सप्लाई आती है। वह लो होती है तो मीटर बीप करता है। 7.30 बजे वो बीप क‌िया लेक‌िन साथ में ये व्यवस्था भी रहती है क‌ि जो गैस स‌िल‌िंडर का स्व‌िच चेंज कर देंगे जिससे सप्लाई आने लगती है। उन्होंने बताया क‌ि लिक्व‌िड गैस की सप्लाई बंद थी लेकिन अल्टरनेट गैस की सप्लाई चालू हो गई थी।

यह भी पढ़ें- 15 अगस्त को होगी मदरसों में वीडियोग्राफी, योगी सरकार ने दिए आदेश

सिद्धार्थनाथ ने कहा क‌ि 11.30 से 1.30 बजे तक गैस की सप्लाई लो थी। हम निष्कर्ष पर आए हैं क‌ि गैस सप्लाई से बच्चों की मौत नहीं हुई है। सप्लाई लो होने पर ये पता चला है क‌ि डीलर का भुगतान नहीं हुआ था। इसका पत्र दिया गया था। इसके बाद 5 तारीख को बीआरडी कॉलेज के प्रिंसिपल के खाते में भुगतान भेजा गया था जो उनके मुताबिक उन्हें 7 तारीख को मिला। डीलर का कहना है क‌ि उसको भुगतान 11 तक मिला।

उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन जीवन रक्षक है इसकी सप्लाई क्यों बंद हुई इस पूरे प्रकरण की जांच की जाएगी और दोषी के खिलाफ कठोर कार्रवाई होगी। तब तक बीआरडी कॉलेज के प्र‌िंस‌िपल आरके म‌िश्रा को तत्काल प्रभाव सस्पेंड किया जाता है।