सोमालिया की राजधानी में सबसे बड़ा आतंकी हमला, 250 की मौत और 300 से ज्यादा घायल

Edited by: Anuj Updated: 16 Oct 2017 | 05:04 PM
detail image

नई दिल्ली। दुनिया के ज्यादा तर देश आतंक की चपेट में है। रविवार को एक बार फिर एक शहर बम की आवाजों से दहल उठा, जिसमें आम और बेगुनाह लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

अफ्रीकी देश सोमालिया की राजधानी मोगादिशू में रविवार को सबसे खतरनाक आतंकी हमले में 250 की मौत और 300 से ज्यादा लोगों की घायल होने की खबर है। धमाका इतना भयंकर था कि जब धुआं और धूल का गुबार हटा तो वहां का मंजर देख कर लोगों के रोंगटे खड़े हो गए। हमले में मारे गए लोगों की लाशें, मानव अंग और घायल पड़े तड़पते हुए लोगों को देखकर हर किसी के होश उड़ गए।

इस विस्फोट से महज दो दिन पहले अमेरिका की अफ्रीका कमान के प्रमुख सोमालिया के राष्ट्रपति से मिलने के लिए मोगादिशू में थे। इससे पहले देश के रक्षा मंत्री और सेनाप्रमुख ने अज्ञात कारणों से इस्तीफा दिया था। वैसे विस्फोट की किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन अल शबाब नामक एक चरमपंथी संगठन ने हाल ही में दक्षिण एवं मध्य सोमालिया में सैन्य अड्डों पर हमले तेज कर दिये हैं।

यह भी पढ़े- जापान: तूफान में फंसकर डूबा जहाज, 10 भारतीय सदस्य लापता

बता दें कि सरकार ने हमले के लिए आतंकी संगठन अल कायदा से जुड़े संगठन अल-शबाब को जिम्मेदार ठहराया है। अक्सर हमले झेलने वाले सोमालिया में यह सबसे बड़ा आतंकी हमला था। अस्पताल में घायलों की जो दशा है, उसके चलते मृतकों की संख्या बढ़ सकती है। मारे गए लोगों की लाशें इस तरह से जली और क्षत-विक्षत हुई हैं कि उन्हें पहचानना मुश्किल हो रहा है। तमाम लोगों को बिना पहचान के ही दफन करना पड़ सकता है।

वहीं, अस्पतालों के बाहर घायलों के लिए खून देने वालों की भीड़ लग गई है। राष्ट्रपति मुहम्मद अब्दुल्लाही मोहमेद ने देश में तीन दिन के शोक की घोषणा की है। विस्फोट से विदेश मंत्रालय के नजदीक स्थित सफारी होटल तहस-नहस हो गया है। इसी होटल के लोहे के गेट से टकराकर ट्रक में विस्फोट कराया गया। अमेरिका ने हमले की निंदा की है।