स्वामी शिवानंद सरस्वती ने अवैध खनन के खिलाफ खोला मोर्चा

Edited by: Editor Updated: 27 Oct 2016 | 07:46 PM
detail image

हरिद्वार। देशभर में जहां अवैध खनन का काला कारोबार अपने पैर पसारे हुए है। वहीं हरिद्वार में मातृसदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद सरस्वती ने एक फिर से अवैध खनन के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है।

अवैध खनन से नदियों को हो रहे बड़े नुकसान से आहत होकर स्वामी जी कई बार आंदोलन कर चुके हैं। स्वामी जी ने पांच नवंबर से अन्न जल त्याग कर तप शुरु करने की चेतावनी दी है।

कई बार अवैध खनन के खिलाफ आंदोलन कर चुके मातृसदन के परमाध्यक्ष स्वामी शिवानंद सरस्वती ने एक बार फिर इस अवैध कारोबार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। वहीं स्वामी ने पांच नवंबर से अन्न जल त्याग कर तप शुरु करने की चेतावनी दी है। स्वामी शिवानंद सरस्वती ने प्रशासन पर खनन माफिया को संरक्षण देने का आरोप लगाया।

उन्होंने कहा कि कंट्रोल रूम में अवैध खनन की शिकायत के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं करती। पुलिस के साथ साथ स्वामी जी ने राज्यसरकार पर भी खनन माफियायों के साथ मिलीभगत होने की भी बात कही।

स्वामी का कहना है कि काफी समय से जिले में खनन पर प्रतिबंध लगा है लेकिन बावजूद इसके जिले के सभी स्टोन क्रशर नियमित रूप से चल रहे हैं। स्वामी ने अवैध खनन पर रोक की मांग को लेकर तपस्या शुरु करने की घोषणा की है।अब देखना होगा कि स्वामी के इस आंदोलन का खनन माफियायों पर कितना असर हो पाता है।