Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

टेलिकॉम कमिशन ने IMG से कहा, कंपनियों को दे राहत

Edited By: Shivani
Updated On : 2017-09-13 13:51:52
टेलिकॉम कमिशन ने IMG से कहा, कंपनियों को दे राहत via
टेलिकॉम कमिशन ने IMG से कहा, कंपनियों को दे राहत


नई दिल्ली। टेलिकॉम कमिशन (टीसी) ने इंटर मिनिस्ट्रियल ग्रुप से कंपनियों को राहत देने को कहा है। कमिशन ने कहाकि वह इंडस्ट्री की हालत की देखे और उन्हें राहत देने के उपाय सोचे। एक अधिकारी ने बताया कि टेलीकॉम कंपनियों पर कर्ज होने के कारण उनकी लाभ में गिरावट आई है।

टेलीकॉम डिपार्टमेंट का यह फैसला काफी साहसिक है। इसके साथ ही एयरटेल, वोडाफोन, आइडिया, रिलायंस और टाटा को इस फैसले से राहत मिली है। इंटर मिनिस्ट्रियल ग्रुप (आईएमजी) ने कंपनियों के स्पेक्ट्रम की रकम 10 साल की बजाय 16 साल में चुकाने की सिफारिश की थी। साथ ही स्पेक्ट्रम की रकम पर ब्याज दर कम करने का भी सुझाव दिया था। टेलीकॉम कंपनी इससे खुश नहीं थी। रिलायंस जियो ने इस राहत का विरोध किया था।

ये भी पढ़ें- वोडाफोन लाया धमाकेदार ऑफर, अनलिमटेड कॉलिंग समेत देगा मुफ्त 84 जीबी डाटा

अधिकारियों ने बताया कि दूरसंचार विभाग का मानना है कि स्पेक्ट्रम का पैसा चुकाने के लिए अधिक समय देने से कंपनियों को तुरंत राहत नहीं मिलेगी। टीसी के सदस्यों का मानना है कि टेलिकॉम सेक्टर अगर मुश्किल परिस्थिति में फंसती है तो यह सरकार के हित में नहीं है, क्योंकि यह केंद्र सरकार को काफी मुनाफा देता है।

बता दें कि पुरानी टेलिकॉम कंपनियो लगभग 5 लाख करोड़ रुपए के कर्ज में दबी हुई है। रिलायंस जियो ने भी इनको काफी नुकसान पहुंचाया है। जियो सर्विस शुरू होने पर इन कंपनियों की लाभ में भारी काफी गिरावट आई है।

ये भी पढ़ें- OMG! रिलायंस इंडस्ट्रीज पर लगा 1700 करोड़ का जुर्माना

टेलिकॉम मंत्री मनोज सिन्हा और प्रधानमंत्री कार्यालय को लिखे लेटर में वोडाफोन ग्रुप के सीईओ विटोरिया कोलाओ ने उम्मीद जताई थी कि आईएमजी ब्याज दरों को घटाकर 6.25 प्रतिशत करे और स्पेक्ट्रम की रकम चुकाने के लिए अधिक समय दे। आईएमजी ने सितंबर की शुरुआत में अपनी सिफारिशें सौंपी थीं, लेकिन उसने कोलाओ की ब्याज दरों में कमी की मांग नहीं मानी थी।


बिजनेस पर शीर्ष समाचार


x