सर्राफा कारोबारियों पर आयकर विभाग का शिंकजा, दून के बाज़ार बंद

Edited by: Editor Updated: 16 Nov 2016 | 09:47 PM
detail image

देहरादून। कालेधन पर शिकंजा कसने के बाद अब आयकर विभाग की नज़र सर्राफा बाज़ार पर है। सर्राफा कारोबारियों पर आयकर के छापों के बाद दून के सर्राफा बाजार बंद है। आगे के रणनीति बनाने के लिए सर्राफा कारोबारियों ने बैठक बुलाई है।

सर्राफा मंडल देहरादून के उपाध्यक्ष सुनील मेसन ने कहा कि सर्राफा व्यापारियों को परेशान किया जा रहा है। अगर आयकर विभाग व्यापारियों का उत्पीड़न करेगा तो कारोबारी आंदोलन करेंगे।

ये भी पढ़ें- मरीज के परिजनों के नोट बदलवाने के लिए बैंकों में होंगे विशेष काउंटर

बता दें कि नोटबंदी के बाद कालाधन ज्वेलरी के माध्यम से खपाने की बात सामने आई थी। जिसके बाद आयकर विभाग की नजर दून के ज्वेलरों पर भी तिरछी हो गई है। इस क्रम में बीते रोज आयकर विभाग की इन्वेस्टिगेशन विंग ने दून के दो ज्वेलरी प्रतिष्ठान के स्टॉक व आय-व्यय की जांच-पड़ताल की थी।

ये भी पढ़ें- 129 में 72 पीसीएस अधिकारियों ने नहीं दिया संपत्ति का ब्योरा

दरअसल, बीते दिनों यह बात प्रकाश में आई थी कि देशभर में बड़ी संख्या में लोग आभूषण खरीदकर काला धन ठिकाने लगा रहे हैं। इसके बाद से आयकर विभाग देशभर में तमाम ज्वेलरी प्रतिष्ठानों की जांच कर रहा है। दून में और भी कई ज्वेलरी प्रतिष्ठान जांच की जद में हैं।