विश्वसनीयता मीडिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती: मोदी

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-03 08:48:29
विश्वसनीयता मीडिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती: मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को यहां कहा कि तकनीकी युग में विश्वसनीयता मीडिया के लिए सबसे बड़ी चुनौती है और मीडिया प्रतिष्ठानों के लिए इसे बनाए रखना जरूरी है।

सूत्रों के मुताबिक द इंडियन एक्सप्रेस अखबार द्वारा आयोजित रामनाथ गोयनका एक्सीलेंस इन जर्नलिज्म अवार्डस समारोह में पुरस्कार वितरण के बाद मोदी ने कहा कि पहले निश्चित प्रशिक्षण एवं योग्यता के साथ लोग पत्रकारिता में आते थे, लेकिन अब मोबाइल फोन से कोई भी तस्वीर लेकर उसे अपलोड कर सकता है।

रिपोर्ट के मुताबिक उन्होंने कहा, ‘लोगों के पास अब बहुत सारी खबरें आती हैं। इस संदर्भ में विश्वसनीयता बनाए रखना एक बड़ा मुद्दा है और इस समय की सबसे बड़ी मांग है।’ इसके साथ ही मोदी ने कहा कि जहां मीडिया के पास हर चीज और हर किसी के ऊपर टिप्पणी करने की पूरी आजादी है, वहीं उसे खुद को लेकर दूसरों के रूख पसंद नहीं आते।

नसीहत देते हुए मोदी ने कहा कि मीडिया यदि मेरी सरकार की आलोचना करता है तो मुझे कोई आपत्ति नहीं है लेकिन रिपोर्टिग में कोई गलती नहीं होनी चाहिए।

इसके आगे उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय एकता प्राथमिकता होनी चाहिए क्योंकि भारत विविधता से भरा हुआ देश है। प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आपके लिए किसी भी तरह का समझौता खबर है और आप अगली खबर की तरफ बढ़ जाते हैं, लेकिन इस तरह के समझौते से पीछे गहरे घाव रह जाते हैं। हम नेता भले ही आपसे ज्यादा गलतियां करते हों, लेकिन कृप्या राष्ट्रीय एकता की ताकतों को मजबूत करें।’


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार