काले धन के खिलाफ सैनिकों की तरह खड़ा हुआ है आम आदमी: पीएम मोदी

Edited by: Editor Updated: 25 Nov 2016 | 10:36 AM
detail image

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संविधान दिवस से एक दिन पहले 'भारत के संविधान' किताब का विमोचन करने पहुंचे। संविधान दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बाबा साहब को याद किया और नोट बंदी का विरोध कर रहे विपक्ष पर करारा प्रहार किया।

पीएम ने इस अवसर पर कहा हर शख्स को अपने पैसे को खर्च करने का अधिकार है। इस अधिकार को कोई छीन नहीं सकता है। देश का आम आदमी काले धन और भ्रष्टाचार के खिलाफ सैनिकों की तरह उठ खड़ा हुआ है सभी को अपने पैसे के इस्तेमाल का अधिकार है। लेकिन आज विश्व बदल रहा है, हमें कैशलेस अर्थव्यवस्था की तरफ जाना ही होगा।

उन्होंने कहा 26 जनवरी को हम गर्व के साथ मनाते हैं। लेकिन 26 नवंबर के बिना इसका कोई अर्थ नहीं है और हमारे संविधान का हम लोगों के जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है। हमें संविधान की आत्मा से खुद को जोड़ने की कोशिश करनी चाहिए।

पीएम ने कहा हमें संविधान की आत्मा से खुद को जोड़ने की कोशिश करनी चाहिए। उन्होंने ‘न्यू वर्जन ऑफ कॉन्स्टीट्यूशन ऑफ इंडिया’ व ‘कॉन्स्टीट्यूशन ऑफ मेंकिंग’ किताबों का विमोचन किया। उन्होंने कहा कि 26 नवंबर के बिना 26 जनवरी का कोई फायदा ही नहीं है।

मोद ने नोटबंदी पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि परेशानी यह नही है कि नोटबंदी हुआ है परेशानी यह है कि लोगों को कालाधन निकालने का समय नहीं मिला है।