Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

सरकार के ऐलान के बाबजूद नहीं बदले गए महिला के नोट

Edited By: Editor
Updated On : 2016-11-17 06:07:49
सरकार के ऐलान के बाबजूद नहीं बदले गए महिला के नोट
सरकार के ऐलान के बाबजूद नहीं बदले गए महिला के नोट

नई दिल्ली। करेंसी बंदी से पूरे देश की जनता परेशान है। खुदरा पैसे ना होने के कारण लोगों को रोजाना का सामान लाने में भी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नोटबंदी के कारण पूरे देश में होने वाली शादियां प्रभावित हुई है।

घर में शादी और पैसे की एक परेशानी बुंदेलखण्ड के झांसी में भी देखने को मिली है। झांसी जिलाधिकारी कार्यालय में पहुंची महिला सीमा बैदोरा गांव की रहने वाली है। आगामी 23 नवंबर को सीमा के बेटे की शादी है। 500 और 1000 रुपए के नोट बंद किए जाने के कारण घर में शादी की तैयारियां अधूरी पड़ी हुई है।

सीमा का कहना है कि जब वह बैंक में नोट बदलने के लिए पहुंची तो उसे पता चला कि सिर्फ 4 हजार रुपए के ही नोट बदले जाएंगे, जिसके बाद वो परेशान हो गई। घर आई तो उसे पता चला कि शादी वाले घरों में सरकार ने नोट बदलने की सीमा को ढाई लाख रुपए तक बदले जाएंगे।

खबर सुनने के बाद सीमा दोबारा शादी के कार्ड पर ग्राम प्रधान से मुहर लगवाकर बैंक पहुंची। हालांकि बैंक ने उसके पैसे नहीं बदले। बता दें कि केंद्र सरकार द्वारा ऐलान किया गया है कि जिन घरों में शादी है उन्हें शादी के कार्ड दिखाने पर पैसे बदलवाने में छुट दी जाएगी। इसके बाबजूद सीमा के पैसे नहीं बदले गए।


बुंदेलखंड पर शीर्ष समाचार