रेप से बचने के लिए चलती ट्रेन से कूदीं मां-बेटी, रेलवे सुरक्षा पर उठे सवाल

Edited by: Web_team Updated: 13 Nov 2017 | 04:41 PM
detail image

कानपुर। आए दिन देश के किसी न किसी कोने से रेप की घटनाओं का सामने आने से तो यही पता चलता है कि हमारे देश में महिलाओं कि सुरक्षा व्यवस्था कितनी अच्छी और मजबूत है। रेप का ही एक और मामला अब U.P. से सामने आया है। यहां कानपुर के पास चलती ट्रेन में एक मां बेटी के साथ रेप करने की कोशिश की गई है।

हालांकि, मां-बेटी ने किसी तरह चलती ट्रेन से कूदकर खुद को रेप का शिकार होने से तो बचा लिया था लेकिन, चलती ट्रेन से कूदने की वजह से दोनों को गहरी चोटें आईं हैं। फिलहाल, दोंनो को अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है।

मां बेटी ने जब इस बात की शिकायत रेलवे पुलिस के जवान से की तो जवान कुछ बदमाशों को वहां से ले गया। शिकायत की वजह से बदमाश और अक्रामक हो गए और कुछ देर बाद वो वापस डिब्बे में आ गए। इसके बाद उन्होंने मां-बेटी के साथ फिर से छेड़छाड़ शुरू कर दी। इसी बीच लड़की जब टॉयलेट जा रही थी, तो उन्होंने उसे खींचकर रेप करने की कोशिश की। वहीं, खुद को बचाने के लिए दोनों चलती ट्रेन से कूद पड़ीं।

इस घटना की जानकारी मिलते ही रेलवे पुलिस ने केस दर्ज करके आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 40 वर्षीय मां अपनी 15 वर्षीय बेटी के साथ हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस ट्रेन से कोलकाता से दिल्ली आ रही थी। ट्रेन के जनरल डिब्बे में हावड़ा से करीब 15 बदमाश चढ़ गए और उन्होंने मां बेटी के साथ अश्लील हरकत करनी शुरू कर दी।

बता दें कि पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि चलती ट्रेन से कूदने के सिवाय उनके पास कोई और रास्ता नहीं था। दोनों करीब दो घंटे तक रेलवे की पटरी के पास बेहोश पड़ी रहीं, जिसके बाद उन्होंने पास के हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। बहरहाल, रेलवे पुलिस ने पूरा मामला दर्ज करके केस की छानबीन शुरू कर दी है।