अमेरिकी विदेश मंत्री ने चीन और पाकिस्तान को दी कड़ी चेतावनी

Edited by: Ankur_maurya Updated: 19 Oct 2017 | 03:03 PM
detail image

वाशिंगटन। भारत और अमेरिका बीच संबंधों को लेकर दिए गए अपने पहले भाषण में अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने पाकिस्तान से आतंकियों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई करने के लिए कहा है। भारत-अमेरिका के बीच अगले 100 साल के रिश्तों की दशा और दिशा तय कर दी है।

एक अमेरिकी थिंक टैंक को संबोधित करते हुए टिलरसन ने कहा कि भारत और अमेरिका आतंकवाद को खत्म करने के लिए मिलकर प्रयास कर रहे हैं। अगले सप्ताह नई दिल्ली आ रहे टिलरसन ने अंतरराष्ट्रीय राजनीति के अनिश्चित माहौल में भारत को एक विश्वस्त सहयोगी बताया।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक महत्वाकांक्षी साझेदारी के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसका लाभ न सिर्फ दोनों देशों बल्कि शांति और सुरक्षा के लिए प्रयासरत अन्य देशों को भी होगा।

पाकिस्तान पर तंज कसते हुए अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि जो देश आतंकवाद को सरकारी नीति के तौर पर इस्तेमाल करते हैं, उन्हें देखना चाहिए कि अंतर्राष्ट्रीय बिरादरी में उनकी प्रतिष्ठा किस तरह कम हुई है। उन्होंने कहा कि आतंकवाद को खत्म करना सभी सभ्य देशों की जवाबदेही है। यह ऐच्छिक नहीं है।

उल्लेखनीय है कि इससे पहले अगस्त में राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भी अफगान नीति की घोषणा करते समय पाकिस्तान को आतंकवाद खत्म करने के लिए आगाह किया था। उन्होंने कहा था कि यदि इस्लामाबाद ने आतंकवाद को संरक्षण देना जारी रखा तो उसे इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ेगी। उन्होंने कहा कि इस साल भारत और अमेरिका अपने संबंधों की 70वीं वर्षगांठ मना रहे हैं। इस लिहाज से उनकी यात्रा खास तौर से महत्वपूर्ण है।