जुकरबर्ग ने शेयर किया 'फ्यूचर नोट', PM मोदी का भी किया जिक्र

Edited by: Editor Updated: 17 Feb 2017 | 04:02 PM
detail image

नई दिल्ली। फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने फेसबुक के बारे में अपने विजन को समझाते हुए एक नोट शेयर किया है। फेसबुक यूजर्स को संबोधित करते हुए लिखे नोट में जुकरबर्ग ने पूरे विश्व को कैसे एक समुदाय बनाया जा सकता है? इस पर अपने विचार लिखे। खास बात यह है कि जकरबर्ग ने भारत के पीएम मोदी की उस पहल का जिक्र किया जिसमें पीएम ने मंत्रियों को अपने कामकाज का ब्यौरा फेसबुक पर डालने को कहा है।

यह भी पढ़ें- वॉशिंगटन में मोदी और ट्रंप की हो सकती है मुलाकात

बता दें कि 6000 शब्दों के इस लंबे नोट में जकरबर्ग ने बताया कि कैसे हम फेसबुक की 'ग्लोबल कम्युनिटी' के जरिए अपने लिए एक बेहतर दुनिया बना सकते हैं। उन्होंने लिखा, पिछले एक दशक से हमारा फोकस दोस्तों और परिवारों को जोड़ने पर रहा है। उस बेस के साथ अब हमारा अगला फोकस समाज के लिए सोशल इन्फ्रास्ट्रक्चर बनाने पर होगा। जो हमें सपोर्ट करे, हमे सुरक्षित रखे, हमे जागरुक रखे और समाज से जोड़े रखे।

यह भी पढ़ें- ट्रंप का दावा, अमेरिका में नहीं घुस सकेंगे गलत लोग

वहीं, पीएम मोदी का जिक्र करते हुए जकरबर्ग ने लिखा, हम चुने हुए नेताओं और लोगों के बीच में डायरेक्ट डायलॉग स्थापित कर सकते हैं। भारत में, पीएम मोदी ने अपने मंत्रियों को कहा है कि वह मीटिंग्स और जानकारी को फेसबुक पर शेयर करें ताकि उन्हें जनता से सीधे फीडबैक मिल सके।

यह भी पढ़ें- सूफी दरगाह पर हमले से बौखलाया पाक, जवाबी कार्रवाई में 37 आतंकी ढेर

जुकरबर्ग ने अपने 'फ्यूचर नोट' में लोगों से ग्लोबलाइजेशन के खिलाफ उठाए जा रहे कदमों का विरोध करने की भी अपील की। उन्होंने कहा कि हम ग्लोबल कॉम्युनिटी बनाकर ऐसे विचारों का विरोध कर सकते हैं। हमें ग्लोबलाइजेशन के खिलाफ बन रही नीतियों पर सिर निराश होकर बैठने की बजाय ग्लोबल कॉम्युनिटी के तौर पर प्रतिक्रिया देनी होगी।

जुकरबर्ग ने और क्या-क्या लिखा फ्यूचर नोट में, यहां देखेः