नोटबंदी के बाद से देशभर के डाकघरों में जमा हुए 32,631 करोड़ रुपए

Edited by: Editor Updated: 27 Nov 2016 | 07:25 PM
detail image

नई दिल्ली। सरकार द्वारा 500 और 1,000 का नोट बंद करने की घोषणा के बाद से देशभर में डाकघरों की चांदी हो गई। जानकारी के मुताबिक देशभर के करीब 1.55 लाख डाकघरों में 32,631 करोड़ रुपए की राशि जमा हुई है।

डाक विभाग के सचिव बी वी सुधाकर ने मीडिया से कहा कि इस दौरान डाकघरों ने 3,680 करोड़ रुपए के पुराने नोट भी बदले हैं।

यह भी पढ़ें- नोटबंदीः 30 फीसदी तक गिर सकती है मकानों की कीमत

उन्होंने बताया कि 10 नवंबर से 24 नवंबर के दौरान हमने 3,680 करोड़ रपये मूल्य के 578 लाख नोट बदले हैं। वहीं इस दौरान 43.48 लाख 500 और 1,000 के नोट जमा किए गए। इनका मूल्य 32,631 करोड़ रपये बैठता है।

सुधाकर ने कहा कि कुल 1.55 लाख डाकघर इस पूरी प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। इनमें से 1.30 लाख डाकघर ग्रामीण इलाकों में तथा 25,000 शहरी और अर्धशहरी क्षेत्रों में हैं। सुधाकर ने बताया कि इसी अवधि में डाकघरों से 3,583 करोड़ रपये की राशि निकाली गई।

यह भी पढ़ें- 30 दिसंबर तक ट्रेन टिकट की ऑनलाइन बुकिंग पर नहीं लगेगा टैक्स

यह पूछे जाने पर कि ग्रामीण और शहरी इलाकों में कितने नोट बदले गए और कितने जमा हुए, सुधाकर ने कहा कि 88 प्रतिशत डाकघर ग्रामीण इलाकों में हैं। इस लिहाज से ज्यादातर लेनदेन ग्रामीण इलाकों में हुआ है।