सत्ता में आने के बाद आरक्षण का दायरा बढ़ाएगी कांग्रेस

Edited by: Editor Updated: 15 Oct 2016 | 06:47 PM
detail image

नई दिल्ली। आगामी विधानसभा चुनाव से पहले एक बार फिर कांग्रेस ने आरक्षण कार्ड की राजनीति शुरू कर दी हैं। कांग्रेस पार्टी ने घोषणा की है कि अगर राज्य की सत्ता में कांग्रेस आती है तो अब तक आरक्षण के लाभ से वंचित रही अति पिछड़ी जाति को भी ओबीसी कोटे के तहत आरक्षण का लाभ दिया जाएगा।

यह फ़ैसला कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को राजधानी दिल्ली में उत्तर प्रदेश के अति पिछड़े नेताओं के साथ हुई बैठक के बाद लिया। पार्टी के इस फैसले को यूपी चुनाव के लिए काफी अहम बताया जा रहा है।

दिल्ली में शनिवार को कांग्रेस मुख्यालय पर पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने यूपी से आए तक़रीबन 150 अति पिछड़ा वर्ग के नेताओं के साथ बैठक की हैं। बैठक के बाद पार्टी ने घोषणा की अगर वो राज्य में सत्ता में आती है तो ओबीसी के भीतर वैसी जातियों के लिए अलग से आरक्षण की व्यवस्था करेगी जिनको अब तक आरक्षण व्यवस्था का फ़ायदा नहीं मिल पाया है।

बता दें कि ओबीसी के लिए 27 फीसदी आरक्षण की व्यवस्था है लेकिन उसका फ़ायदा केवल कुछ जातियों को ही मिल पाया है। ओबीसी के भीतर जो अति पिछड़ी जातियां हैं उन्हें इसका फ़ायदा नहीं मिल पाया है। वहीं पार्टी ने ये साफ़ नहीं किया है कि ओबीसी में शामिल किन जातियों को नई आरक्षण व्यवस्था में शामिल किया जाएगा।