धनतेरस पर करें भगवान धन्वंतरी को प्रसन्न, मनोकामनाएं होगी पूरी

Edited by: Editor Updated: 23 Oct 2016 | 11:17 AM
detail image

नई दिल्ली। दिवाली से दो दिन पहले धनतेरस व धन्वंतरी जयंती काफी धूमधाम से मनाई जाती है। धन्वंतरी भगवान विष्णु जी का एक अवतार है, जो आयुर्वेद व स्वस्थ जीवन प्रदान करते है। ऐसा कहा जाता है कि जब वह प्रकट हुए तो उनके हाथों में अमृत से भरा कलश था, जिसके कारण धनतेरस पर बर्तन खरीदने की परंपरा शुरु हुई।

ऐसी मान्यता है कि जो प्राणी धनतेरस की शाम यम के नाम पर दक्षिण दिशा में दिया जलाकर रखता है, उसकी अकाल मृत्यु नहीं होती है। इस दिन सारे घर कि सफाई कर, घर का सारा कूड़ा-करकट, टूटा-फूटा सामान घर से बाहर निकाल दिया जाता है।

इस दिन चाँदी खरीदना शुभ माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि चाँदी खरीदने से घर में यश, कीर्ति, ऐश्वर्य और संपदा में वृद्धि होती है। बता दें, व्यापारियों, चिकित्सा और औषधि विज्ञान के लिए यह दिन बहुत शुभ माना जाता है।