Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

पहली बार डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ पेश हुआ महाभियोग का प्रस्ताव

Edited By: Ankur Maurya
Updated On : 2017-07-14 19:18:53
पहली बार डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ पेश हुआ महाभियोग का प्रस्ताव via
पहली बार डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ पेश हुआ महाभियोग का प्रस्ताव

नई दिल्ली। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर डेमोक्रेटिक सांसद ने वर्ष 2016 के राष्ट्रपति चुनावों में रूसी हस्तक्षेप की संघीय जांच में बाधा पहुंचाने का आरोप लगाते हुए ट्रंप के खिलाफ पहला महाभियोग आर्टकिल ऑफ इम्पीचमेंट प्रस्ताव पेश किया है।

कैलिफोर्निया से डेमोक्रेटिक सांसद ब्रैड शेरमेन ने टेक्सास के सांसद अल ग्रीन के साथ मिलकर बड़े अपराधों और खराब आचरण के लिए ट्रंप के खिलाफ आर्टकिल ऑफ इम्पीचमेंट पेश किया। डेमोक्रेट अल ग्रीन ने शेरमेन के इस प्रस्ताव पर हस्ताक्षर किए हैं। यह पहली बार है जब किसी अमेरिकी सांसद ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पेश किया है।

यह भी पढ़ें- अमेरिका, ब्रिटेन को पछाड़ मोदी सरकार फोर्ब्स की वैश्विक सूची में बनी नंबर वन

बहरहाल, इस प्रस्ताव के रिपब्लिकन के नियंत्रण वाली कांग्रेस में पारित नहीं होने की संभावना है। इसे आगे बढ़ाने के लिए प्रतिनिधि सभा को इसे बहुमत से पारित करना होगा। ट्रंप की रिपब्ल्किन पार्टी के पास मौजूदा प्रतिनिधि सभा में 46 मतों की बढ़त है और इसकी संभावना कम है कि उनकी पार्टी के सांसद इस महाभियोग प्रस्ताव पर वोट देंगे। व्हाइट हाउस ने शेरमेन के इस कदम को खारिज कर दिया।

व्हाइट हाउस की प्रवक्ता सारा हकाबी सैंडर्स ने कहा कि मुझे लगता है कि यह पूरी तरह से बेतुका और अब तक की सबसे खराब राजनीति है। शेरमेन ने ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पेश करने के बाद कहा कि डोनाल्ड ट्रंप जूनियर के हालिया खुलासे से यह संकेत मिलता है कि ट्रंप का अभियान रूस से सहायता लेने का इच्छुक था।

यह भी पढ़ें- फ्रांस के राष्ट्रपति की पत्नी से बोले डोनाल्ड ट्रंप, 'आपकी बॉडी का शेप काफी बढ़िया है'

प्रवक्ता के अनुसार अब यह लग रहा है कि जब राष्ट्रपति ने राष्ट्रपति सुरक्षा सलाहकार माइकल फ्लिन की जांच और व्यापक रूसी जांच में बाधा पहुंचाने की कोशिश की तो वह कुछ छिपाना चाहते थे। मेरा मानना है कि उनकी बातचीत और फिर एफबीआई निदेशक जेम्स कोमी की बर्खास्तगी ने न्याय में बाधा डाली।


दुनिया पर शीर्ष समाचार


x