यमुना रीवर फ्रंट को विकसित करने में दिल्ली सरकार खर्च करेगी 200 करोड़ रूपए

Edited by: Editor Updated: 26 Oct 2016 | 10:08 PM
detail image

नई दिल्ली। यमुना को साबरमती की तर्ज पर विकसित करने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। लगभग 200 करोड़ रुपए की लागत से यमुना किनारे को खूबसूरत और मनोरम बनाया जाएगा। यह कार्य वजीराबाद से ऊपर सोनिया विहार के पास 5 किलोमीटर के दायरे में किया जाएगा।


पूर्वी दिल्ली में यमुना किनारे के सौंदर्यीकरण के लिए दिल्ली सरकार के पर्यटन विभाग ने बड़ी योजना बनाई है। परियोजना को तीन चरणों में पूरा किया जाएगा। पहले चरण को अगले छह महीने में पूरा कर लिया जाएगा। इस चरण में नदी में रोइंग (नौकायन)-कैनोइंग (राफ्टिंग) की व्यवस्था की जाएगी। यहां पर एक मॉडर्न अखाड़ा भी बनाया जाएगा।

ये अपनी तरह का पहला इकोलॉजिकल व बायोडायवर्सिटी आधारित रिवर फ्रंट होगा। इसके अलावा यहां पर वेटलैंड भी विकसित किया जाएगा।

आपको बता दें कि फिलहाल गीता घाट का निर्माण शुरू हो गया है, इसकी वजह से इस बार भाई दूज पर सोनिया विहार में यमुना महाआरती का आयोजन किया जाएगा। महाआरती में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के अलावा दिल्ली कैबिनेट के अन्य सभी मंत्री, गुजरात के कलाकार सहित अनेक गणमान्य लोग मौजूद रहेंगे।