भारत-पाक तनाव के कारण कपास व्यापार में आई गिरावट

Edited by: Editor Updated: 18 Oct 2016 | 10:58 AM
detail image

इस्लामाबाद। भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव के कारण दोनों देशों के रिश्तों के साथ ही इसका असर कपास व्यापार पर देखने को मिल रहा है। सूत्रों के हवाले से मिल रही जानकारी के मुताबिक दोनों देशों के बीच हर साल 82.20 करोड़ डॉलर के होने वाले कपास व्यापार में कमी देखने को मिल रही है।

ज्यादातर पाकिस्तान के ग्राहक भारत और पाकिस्तान के बीच दुश्मनी को देखते हुए राष्ट्र के साथ एकजुटता प्रदर्शित करने के लिए भारत से कपास नहीं खरीद रहे हैं। सूत्रों का यह भी कहना है कि भारतीय निर्यातक भी कपास बेचने से इनकार कर रहे हैं।

जानकारों का मानना है कि पाकिस्तान से इस साल कम आयात होने के कारण भारतीय निर्यात को नुकसान पहुंच सकता है, जिसके कारण कपास निर्यात करने वाले प्रतिद्वंद्वी देश जैसे ब्राजील, अमेरिका और कुछ अफ्रीकी देशों को मदद मिल सकती है।

जानकारों का यह भी कहना है कि व्यापार ऐसे समय में स्थगित किया गया है, जब पाकिस्तान के कपास के उत्पादन में पिछले सालों की तुलना में 15 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है। बता दें कि पाकिस्तान दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा कपास उपभोक्ता देश है। भारत से कपास ना लेने से पाकिस्तान के धागा उद्योग पर बड़ा असर देखने को मिल सकता है।