यूपी में कानून व्यवस्था का बुरा हाल,बसपा की सरकार जरूरी- मायावती

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-09 11:45:12
यूपी में कानून व्यवस्था का बुरा हाल,बसपा की सरकार जरूरी- मायावती

लखनऊ। लखनऊ की सरजमीं पर आज मायावती की महारैली का शंखनाद हो गया है। रविवार को एक चुनावी महारैली को संबोधित करते हुए मायावती ने यूपी की मौजूदा सरकार की कानून व्यवस्था के बुरा हाल पर कड़ा प्रहार करते हुए कहा कि प्रदेश में अब बसपा की सरकार जरुरी हो गई है। मायावती ने दावा किया है कि आगामी चुनाव में बसपा पूर्ण बहुमत से उत्तर प्रदेश में सरकार बनाएगी।

मंच को संबोधित करने से पहले बसपा सुप्रीमो मायावती ने बसपा के संस्थापक कांशीराम को श्रद्धांजलि अर्पित किया और महारैली में जमा हुए लाखों कार्यकर्ताओं और आम जनता का शुक्रिया अदा किया। ऐसा माना जा रहा है कि बसपा की इस महारैली में 25 लाख से अधिक लोग मौजूद हैं।

सभा को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि प्रदेश में क्राइम ग्राफ तेजी से बढ़ा है और मुजफ्फरनगर दंगा, मथुरा का जवाहर बाग कांड जैसी घटनाएं इसके उदाहरण हैं।

महारैली को संबोधित करते हुए मायावती ने बीजेपी को आड़े हाथ लिया और केन्द्र की मोदी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव 2014 के दौरान बीजेपी ने जनता को रोजाना का खाद्य पदार्थ, स्वास्थ्य सेवाएं, 24 घंटे की बिजली, पक्की सड़कें, गरीबों को दो कमरों के पक्के मकान, शिक्षा व्यवस्था में सुधार, महंगाई कम, रोजगार व्यवस्था में सुधार करने का वादा किया था, लेकिन प्रदेश में अब तक ऐसा कोई काम नहीं हुआ है।

उन्होंने काला धन वापस लाने के वादे पर तंज कसते हुए कहा कि अब बीजेपी बाहर से कालाधन लाने की बजाय, कांग्रेस की तरह ही अपने काले धन को सफेद करने में लगी हुई है। मोदी सरकार किसानों का कर्ज माफ नहीं करती है, लेकिन विजय माल्या और ललित मोदी जैसे भ्रष्टाचारियों को देश से भागने में मदद जरूर करती है। आगे उन्होंने कहा कि वादा केंद्र सरकार करती है और उसे पूरा करने का काम बसपा करती है। 

मायावती के मुताबिक उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को सुचारू रुप से दोबारा बहाल करने के लिए बसपा की सरकार बेहद जरूरी है और कांशीराम को सच्ची श्रद्धांजलि देने लिए शासन में बसपा को वापस लाना होगा।


उत्तर प्रदेश पर शीर्ष समाचार