98 साल के बुजुर्ग ने पूरा किया सपना, हासिल की एमए की डिग्री

Edited by: Web_team Updated: 27 Dec 2017 | 08:31 PM
detail image

पटना। कहते हैं कि पढ़ाई की कोई उम्र नहीं होती है, और इस कहावत को साबित कर दिखाया है 98 साल के राजकुमार वैश्य ने। जी हां, इन्होंने 98 साल की उम्र में एमए की डिग्री हासिल की है। पटना के राजेंद्र नगर के रोड नंबर-5 में रहने वाले राजकुमार वैश्य को अर्थशास्त्र में एमए की डिग्री मिली है।

बता दें कि मंगलवार को नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में वैश्य को एमए की डिग्री प्रदान की गई। उन्होंने इसी साल सितंबर में हुई परीक्षा द्वितीय श्रेणी से पास की है। मंगलवार को जब वे अपनी डिग्री लेने पहुंचे, तो लोगों ने उनका जोरदार स्वागत किया। वहीं, वैश्य ने कहा, "किसी भी इच्छा को पूरा करने में उम्र कभी आड़े नहीं आती। मैंने अपना सपना पूरा कर लिया है। अब मैं पोस्ट ग्रैजुएट हूं। मैंने दो साल पहले ये तय किया था कि इस उम्र में भी कोई अपना सपना पूरा कर सकता है।"

हालांकि, उनके इस सपने को पूरा करने का श्रेय उन्होंने अपने बहू भारती और बेटे संतोष कुमार को दिया और बताया, "1977 में नौकरी से रिटायर होने के बाद मैं अपने घर बरेली चला गया। घरेलू काम में व्यस्त रहा, बच्चों को पढ़ाया, लेकिन अब मैं अपने बेटे और बहू के साथ रहता हूं। उम्र काफी हो गई, लेकिन एमए की पढ़ाई पूरी करने की इच्छा खत्म नहीं हुई थी। मैंने एक दिन अपने दिल की बात अपने बेटे और बहू को बताई। बेटे प्रोफेसर संतोष कुमार और बहू भारती एस. कुमार दोनों प्रोफेसर की नौकरी से रिटायर हो चुके हैं। वे दोनों भी इसके लिए तैयार हो गए और आज मेरी इच्छा पूरी हो गई।"

वहीं, संतोष ने कहा, 'पिताजी ने एमए करने की इच्छा जताई थी, तब मैंने नालंदा ओपन यूनिवर्सिटी से संपर्क किया था और उनका नामांकन कराया था। विश्वविद्यालय प्रशासन ने खुद घर आकर पिताजी के नामांकन की औपचारिकताएं पूरी की थीं।"