जनधन खातों में नहीं जमा होंगे पुराने नोट, नोटबंदी के बाद से जमा हुए 21000 करोड़

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-23 20:14:17
जनधन खातों में नहीं जमा होंगे पुराने नोट, नोटबंदी के बाद से जमा हुए 21000 करोड़

नई दिल्ली। मोदी सरकार द्वारा 500 और 1000 के नोटों को बैन करने के बाद से जनधन खातों में भारी उछाल देखने को मिला है। इन खातों में 21,000 करोड़ रपये की भारी भरकम राशि जमा कराई गई है। सूत्रों ने बताया कि बीते 13 दिनों से बैंकों में जनधन खातों में भारी राशि जमा कराई जा रही है।

यह भी पढ़ें- आरबीआई ने दी ग्राहकों को राहत, 50 हजार रुपए प्रति सप्ताह निकालने की छूट

जनधन खातों में काले धन के जमा होने की खबर सामने आने के बाद रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने कड़ा कदम उठाया है। आरबीआई ने बुधवार से जनधन खातों में 500 और 1000 के पुराने नोट जमा करने पर रोक लगा दी है और यह फैसला बुधवार से ही प्रभावी हो गया है।

यह भी पढ़ें- स्पाइसजेट के बाद इंडिगो ने भी सस्ता किया हवाई सफर

नोटबंदी के फैसले के बाद से ही जनधन खातों में अचानक से पैसों का काफी बड़ा अमाउंट जमा किया गया था, जिसके बाद आईबी और आयकर विभाग दोनों को ही इस मामले की जांच करने के लिए सक्रिय कर दिया गया था। बताया जा रहा है कि जनधन खातों में कालाधन जमा कराया गया है।

यह भी पढ़ें- नोटबंदीः किसानों के लिए रिज़र्व बैंक ने जारी किया 21 हजार करोड़ का फंड

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर को नोटबंदी के फैसले के तहत 500 और 1000 रुपए के नोटों को अमान्य घोषित कर दिया था। उसके बाद से जनधन खातों में लगातार पैसे जमा हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि अबतक 21000 करोड़ रुपए जमा हो चुके है। रिपोर्ट के मुताबिक पश्चिम बंगाल और कर्नाटक के जनधन खातों में सबसे ज्यादा रकम जमा किए गए है।


बिजनेस पर शीर्ष समाचार