गुजराती भाषा दिल के बेहद करीब: प्रणब मुखर्जी

Edited by: Editor Updated: 24 Oct 2016 | 05:21 PM
detail image

नई दिल्ली। दो दिवसीय गुजरात दौरे पर भरूच पहुंचे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने जनता को संबोधित किया। संबोधन के दौरान राष्ट्रपति मुखर्जी ने कहा कि गुजराती भाषा उनके दिल के बेहद करीब है, हालांकि वह स्थानीय भाषा बोल नहीं पाते हैं।

उन्होंने कहा कि मैं गुजरात के लिए कोई नया शख्स नहीं हूं, गुजरात से छह सालों की अवधि के लिए राज्यसभा के लिए निर्वाचित होने में मेरी मदद की है। इसलिए मैं गुजराती होने का दावा कर सकता हूं लेकिन बोल नहीं सकता हूं।

उन्होंने यहां भरूच जिले में सरदार पटेल मल्टीस्पेशिएलिटी एंड हार्ट हास्पिटल का उद्घाटन किया। राष्ट्रपति ने भारत और गुजरात के दो महान सपूतों की प्रशंसा की कि उन्होंने न केवल देश की स्वतंत्रता सुनिश्चित की बल्कि उसके भविष्य के लिए एक मजबूत नींव भी रखी।