उत्तराखण्ड में स्टाफिंग पैटर्न हुआ लागू

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-09 11:33:13
उत्तराखण्ड में स्टाफिंग पैटर्न हुआ लागू

देहरादून। उत्तराखण्ड के कर्मचारियों को उनके भविष्य निधि पर कम ब्याज मिलेगा। सरकार ने दिसंबर से इसमें कटौती करने का फैसला लिया है। अब यह ब्याज 8 फीसदी के हिसाब से मिलेगा राज्य के वित्त सचिव डीएस गब्र्याल द्वारा यह आदेश दिए गए हैं।

बता दें कि वर्तमान समय में सामान्य भविष्य निधि, अंशदायी भविष्य निधि और अंशदायी भविष्य निधि पेंशन बीमा योजना पर 8.1 फीसदी के हिसाब से ब्याज मिलता था। प्रदेश सरकार ने अब हर तीन महीने में भविष्य निधि पर मिलने वाले ब्याज में संशोधन करने का निर्णय लिया है। 1 अक्टूबर से 31 दिसंबर तक इस राशि पर 8 फीसदी के हिसाब से ब्याज मिलेगा।

सरकार ने राजकीय विभागों के वैयक्तिक सहायक संवर्ग में भी मिनिस्टीरियल संवर्ग की तर्ज पर स्टाफिंग पैटर्न लागू कर दिया है। इससे मुख्य वैयक्तिक अधिकारी संवर्ग में पदोन्नती के अवसर बढ़ गए हैं।

वैयक्तिक सहायक में 15 साल की सेवा के बाद ही पदोन्नती मिल सकेगा। वरिष्ठ वैयक्तिक सहायक में जिस कार्मिक की पांच साल की सेवा होगी, वो ही वैयक्तिक अधिकारी के लिए अर्ह होगा।

वहीं, मुख्य वैयक्तिक अधिकारी के लिए 28 साल की सेवा जरूरी है। इसमें तीन साल की सेवा वैयक्तिक अधिकारी संवर्ग में भी होनी चाहिए। अब इस संवर्ग में दो के बजाय 6 प्रतिशत पद आरक्षित कर दिए गए हैं। 


उत्तराखंड पर शीर्ष समाचार