रेल पटरी पर पेड़ गिरा, नक्सलियों ने ट्रेन में की लूटपाट

Edited by: Priyanka Updated: 15 Jan 2018 | 12:43 PM
detail image

नई दिल्ली। पुलिस के चौतरफा दबाव और मुठभेड़ों के बावजूद भी छत्तीसगढ़ के बस्तर संभाग में नक्सलियों ने उत्पात मचाते हुए रेल पटरी पर पेड़ गिराकर रेलगाड़ी को पलटाने की पुरजोर कोशिश की, लेकिन रेल ड्राइवर की सावधानी से बड़ा हादसा टल गया। बता दें शनिवार रात एक बजे सशस्त्र नक्सलियों ने किरंदुल से आ रही मालगाड़ी के ड्राइवर से मारपीट की और उनके वाकी-टाकी और मोबाईल लूट लिए।

वहीं, इस बात की जानकारी रविवार को मिली जब दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के जनसम्पर्क अधिकारी शिवकुमार पवार ने घटना की सूचना दी। उन्होंने कहा कि वारदात के बाद से ही किरंदुल-विशाखापटनम मार्ग पर यातायात ठप हो गया है, वहीं पैसेंजर और स्पेशल ट्रेन भी नहीं चल रही है। पुलिस के मुताबिक नक्सलियों ने बचेली और भांसी के बीच 434/17 किमी पर इस वारदात को अंजाम दिया है।

ध्यान देने वाली बात है कि मालगाड़ी में आयरन ओर लोड था जो कि देर रात बचेली से आ रही थी। इसी बीच सशस्त्र नक्सलियों ने पहले तो पेड़ गिरा कर यातायात को बाधित कर दिया, फिर ड्राइवर को धमकाते हुए वॉकी-टॉकी, मोबाइल और पर्सनल इक्यूपमेंट लूट कर फरार हो गए। इसकी सूचना ड्राइवर ने रेलवे प्रशासन को दी और बचेली थाने में भी सूचित किया गया।

रेलवे के मुताबिक नक्सलियों ने ओएचई केबल को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है, जिससे विद्युत सप्लाई बंद होने से ट्रेन का परिचालन रात से बंद है। कहा जा रहा है कि वारदात को अंजाम देने के लिए पहुंचे नक्सली अत्याधुनिक हथियारों से लैस थे। कुछ कुल्हाड़ी और अन्य धारदार हथियार पकड़े हुए थे। घटना के बाद सुबह सुरक्षा बलों के साथ रेलवे की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गई है। फिलहाल, विद्युत सप्लाई बहाल करने में वक्त लग सकता है।