Disable ADBlock and Click Here to Reload The Page

दिवाली की आतिशबाजी के बाद दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा

Edited By: Editor
Updated On : 2016-10-31 09:51:55
दिवाली की आतिशबाजी के बाद दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा
दिवाली की आतिशबाजी के बाद दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बढ़ा

नई दिल्ली। रविवार को पूरे देश में दिवाली का जश्न मना लिया, लोगों ने खूब पटाखे जलाए,आतिशबाजियां की। राजधानी दिल्ली और मुंबई में आतिशबाजी के कारण वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ गया।

राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर खतरे के निशान से ऊपर पहुंच गया। सोशल मीडिया पर शहीदों की दिवाली मनाए जाने के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि इस साल दिवाली पर आतिशबाजी कम होगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

केंद्र सरकार की संस्था System of Air Quality and Weather Forecasting And Research यानी SAFAR के मुताबिक दिवाली पर आतिशबाजी के बाद खतरनाक पर्टिकुलेट मैटर यानी पीएम 2.5 का स्तर 507 तक पहुंच गया, जबकि पीएम 10 का स्तर 511 तक था। कुल मिलाकर दिल्ली की हवा दिवाली के बाद और भी ज्यादा प्रदूषित हो गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा में भी प्रदूषण का स्तर खतरनाक लेवल पर पहुंच गया। नोएडा में पीएम 2.5 का स्तर 450 था, जबकि पीएम 10 का स्तर 493 थाय़

पीएम यानी पर्टिकुलेट मैटर, पीएम 2.5 और पीएम 10 के जरिए वातावरण में वायु और धूल का प्रदूषण मापा जाता है। अगर स्तर 400 से ज्यादा होता है तो ये सेहत के लिए बेहद ही खतरनाक है।

दिल्ली एनसीआर में सिर्फ हवा की खतरनाक नहीं है बल्कि गंदगी भी बड़ी चुनौती है। आतिशबाजी के बाद जगह जगह दिल्ली में पटाखों का कूड़ा जमा है, जिसको साफ करने के लिए नगर निगम के कर्मचारी सुबह से ही जुट हुए हैं।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार


x