देश में बदलाव की शुरुआत पूर्वांचल से होगीः पीएम मोदी

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-27 14:19:34
देश में बदलाव की शुरुआत पूर्वांचल से होगीः पीएम मोदी

कुशीनगर। प्रधानमंत्री मोदी ने कुशीनगर में आयोजित एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा है कि उनकी सरकार किसानों के लिए समर्पित है और दिल्ली में बीजेपी की सरकार जनता का कर्ज चुकाने के लिए आई है। उन्होंने आगे कहा कि बीजेपी सरकार गरीबों, वंचितों और शोषितों के उद्धार के लिए पूरी तरह से समर्पित हैं।

पीएम नरेन्द्र मोदी ने यूपी के कुशीनगर में बीजेपी की परिवर्तन रैली को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत भोजपुरी में बोलते हुए कहा, 'ई धरती गौतम बुद्ध अउर महावीर और ऋषि-मुनियन की धरती बा। मोदी का भाषण भोजपुरी में सुनकर एकत्रित लोगों ने तालिया बजा कर उनका स्वागत किया।

यह भी पढ़ें- नोटबंदी के बाद रद्दी में बदल गए 2,203 करोड़ नोट

रैली में लोगों की भारी भीड़ देखते हुए पीएम मोदी ने कहा, 'मैं पहले भी यहां आ चुका हूं, लेकिन तब जनसभा में इतने लोग नहीं आते थे, लेकिन आज माताएं और बहने, बूढ़ें-बुजुर्ग मुझे आशीर्वाद देने आए हैं। मोदी ने आगे कहा, यह देश कृषि प्रधान देश है। बिना किसान के देश का विकास संभव नहीं है।

उन्होंने किसानों की परेशानी का जिक्र करते हुए कहा कि पहले यूरिया की कालाबाजारी होती थी, जिससे यूरिया पाने के लिए किसानों को लाठी-डंडे खाने पड़ते थे, लेकिन बीजेपी सरकार में यूरिया को नीम कोटिंग कर दी गई, जिससे अब यूरिया की कालाबाजारी बंद हो गयी और किसानों को समय पर यूरिया मिलने लगा है।

यह भी पढ़ें- गरीबों के खाते में कालाधन डालने वालों पर सख्त कार्रवाई होगीः पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि जब हम बीमार होते हैं तो डॉक्टर पहले पैथालॉजिकल जांच करवाने को कहता है, उसके बाद दवा देता है। जैसा हमारे शरीर का स्वभाव ठीक वैसा धरती का स्वभाव भी है। जिस तरह हमारी जांच होती है, वैसे धरती मां की भी जांच हो सकती है। हमने इस दिशा में प्रयास किया और अब तक 100 करोड़ लीटर इथेनॉल बनाने का रिकॉर्ड बनाया है।

गन्ना किसानों की परेशानी के बारे में बोलते हुए पीएम ने कहा, 'हमने गन्ना किसानों का पैकेज सीधे उनके खाते में पहुंचाया, हम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना लेकर आए जिसके तहत अगर आपने प्राकृतिक आपदा के तहत बुवाई नहीं की तो भी आपको बीमे का लाभ मिलेगा। फसल तैयार होने के 15 दिनों के अंदर किसी आपदा के वजह से अनाज का नुकसान हो तो भी बीमा योजना का लाभ मिलेगा।

यह भी पढ़ें- मुझे नोटबंदी से होने वाली परेशानियों का अंदाजा था, पर निर्णय जरूरी थाः मोदी

वहीं, सपा सरकार पर निशाना साधते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दिल्ली सरकार किसानों और विकास के लिए खर्चा करने को तैयार है, लेकिन यूपी की सरकार को भी काम करने के लिए तैयार रहना होगा। अपने संबोधन में मोदी नोटबंदी का जिक्र करना नहीं भूले।

मोदी ने कहा कि हमने पिछले दिनों नोटबंदी का निर्णय लिया। अब आप बताओ यह निर्णय सही है या फिर गलत। किसी बीमारी दूर करने के लिए कड़वी दवा देनी पड़ती है और हमने भी तो वही किया। विरोधियों पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि दूसरों का लूटकर जमा करने वाले किसी का भला नहीं कर सकते।

यह भी पढ़ें- 2000 के 2 लाख नकली नोटोंं को देख पुलिस के उड़े होश

लोगों से टेक्नोलॉजी की बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि कोई आपको मोबाइल चलाना सिखाने नहीं आया था, किसी ने आपको व्हाट्सएप चलाना नहीं सिखाया, लेकिन आप सब जानते हैं। अब आपके हाथों आपका बैंक है इसलिए अब आपको बटुवा रखने की जरूरत नहीं है। अब एप के मदद से सिर्फ 1 सेंकंड में किसी के अकाउंट में पैसा भेजिए।

पीएम मोदी ने पढ़े लिखे नौजवानों से आग्रह किया कि वे आस-पड़ोस वालों को मोबाइल से खरीदारी करना सिखाएं, इससे ज्यादा नोट छापना नहीं पड़ेगा, क्योंकि जब ज्यादा नोट नहीं छपेंगे तो कोई भी नोटों के बिस्तर पर नहीं सोयेगा।

यह भी पढ़ें- भारत को बुरी नजर से देखा तो आंखे निकाल लेंगे: मनोहर पर्रिकर

विपक्ष के नोटबंदी के खिलाफ भारत बंद आह्वान पर चुटकी लेते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम तो भ्रष्टाचार और कालेधन को बंद करने में लगे हैं, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो भारत बंद करने में लगे हैं। अब यह फैसला आपको करना है कि कालेधन का रास्ता बंद होना चाहिए या फिर भारत बंद होना चाहिए।


राष्ट्रीय पर शीर्ष समाचार