गैंगरेप की शिकार महिला से पुलिस ने पूछे बेतुके सवाल

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-11-03 16:45:32
गैंगरेप की शिकार महिला से पुलिस ने पूछे बेतुके सवाल

तिरुवनंतपुरम। जानी मानी डबिंग आर्टिस्ट भाग्यलक्ष्मी ने अपने फेसबुक पेज पर एक महिला के साथ दो साल पहले हुए गैंग रेप की दर्दनाक कहानी शेयर की है। देखते ही देखते यह पोस्ट इतनी वायरल हो गई और मुख्यमंत्री के ऑफिस ने इसमें दखल देते हुए, कार्रवाई का भरोसा दिलाया।

भाग्यलक्ष्मी के मुताबिक, थ्रिसुर की रहने वाली एक महिला तीन हफ्ते पहले अपने पति के सात उनके घर आई थी जो अपने साथ हुई रेप की घटना के बारे में बात करना चाहती थी। महिला के साथ यह भयानक घटना दो साल पहले हुई थी जिसमें एक स्थानीय नेता समेत चार लोग शामिल थे, वे सभी महिला के पति के दोस्त थे।

पीड़ित महिला इतनी बुरी तरह टूट चुकी थी कि पुलिस के पास जाकर शिकायत करने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। किसी तरह तीन महीने बाद जब वह पुलिस के पास गई तो उसे मानसिक प्रताड़ना झेलनी पड़ी। भाग्यलक्ष्मी ने फेसबुक पोस्ट में उस महिला के हवाले से बताया, 'पुलिस के सवालों का जवाब देना मेरे लिए मानसिक बलात्कार होने जैसा था।

केरल में गैंगरेप पीड़ित उस महिला से पुलिस ने ऐसे-ऐसे सवाल पूछे कि उसने केस वापस लेने का फैसला किया है। इस महिला के साथ उसके पति के दोस्तों ने ही कथित तौर पर सामूहिक बलात्कार किया था।

पीड़ित महिला ने आरोप लगाया है कि पुलिस आरोपियों की मदद करना चाहती थी। इसीलिए शर्मसार करने और परेशान करने वाले सवाल पूछे गए। पीड़ित के मुताबिक पुलिस ने उससे पूछा कि रेप करनेवालों मे से सबसे ज्यादा आनंद किसके साथ आया।

आपको बता दें कि पीड़ित महिला और उसके पति की चेहरा ढका हुआ एक फोटो गुरुवार को फेसबुक पर वायरल हुआ है। पोस्ट में 35 साल की पीड़िता ने कहा कि मैं कोई मुकदमा लड़ना नहीं चाहती क्योंकि पुलिस हमें जानबूझकर परेशान कर रही है।

पीड़ित महिला का कहना है कि यह रेप से भी ज्यादा दुखदायी है। पुलिस हमें धमकी देने के साथ-साथ बेइज्जत कर रही है। भाग्यलक्ष्मी ने अपने पोस्ट में लिखा है कि जब पीड़ित महिला के पति के साथ उससे मिलने गई तो वह रोने से अपने को रोक नहीं पा रही थी।

गौरतलब है कि इस साल के शुरुआत में तिरुवनंतपुरम से करीब 280 किलोमीटर दूर त्रिशूर के एक गांव में एक महिला ने आरोप लगाया था कि उसके पति के चार दोस्तों ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया है।

फेसबुक पोस्ट में महिला का आरोप है कि जब उसके पति घर पर नहीं थे तब ये चारों लोग उसके घर पर आए और कहा कि तुम्हारा पति अस्पताल में है। महिला ने उनपर भरोसा किया और उनके साथ अस्पताल के लिए निकल पड़ी लेकिन बीच रास्ते में उनलोगों ने गाड़ी दूसरी दिशा में मोड़ लिया।


अपराध पर शीर्ष समाचार