परियोजनाओं पर ठीक से काम ना होने पर गुस्साए लोग, उमा भारती का फूंका पुतला

Author: Hindi Khabar
Updated On : 2016-10-06 20:27:03
परियोजनाओं पर ठीक से काम ना होने पर गुस्साए लोग, उमा भारती का फूंका पुतला

हरिद्वार। गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने नमामि गंगे परियोजना की शुरूआत की, लेकिन ये योजना लोगों की उम्मीदों पर खरी नहीं उतर पाई है। हरिद्वार में गत दिनों करोड़ों रुपए की लागत से योजनाओं और शिलान्यास के बाद लोगों का गुस्सा फूटा है। भारी तादाद में लोगों ने इक्ट्ठा होकर केंद्रीय जल संसाधन मंत्री उमा भारती का पुतला फूंका है।

प्रदर्शनकारियों का आरोप है की जुलाई में हुए कार्यक्रम में उमा भारती ने अक्टूबर माह तक गंगा की अविरलता और निर्मलता को लेकर किए जाने वाले कामों को पूरा करने का वायदा किया था, लेकिन शहर के नालों का पानी सीधे गंगा में जा रहा है। उनका ये भी कहना है कि नालों का पानी गंगा में जाने से पानी दूषित हो रहा है। लेकिन प्रशासन को इसकी खबर नहीं है।

साथ ही कहा की शहर के लोगों को एनजीटी के आदेश का हवाला देकर स्थानीय व्यापारियों और होटल मालिकों को परेशान किया जा रहा है। लेकिन जो लोग गंगा को दूषित कर रहे है प्रशासन उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं कर रहा है। लोगों का कहना है कि इस मामले में अगर जल्द ही कोई कार्रवाई नहीं की गई तो उनकी ओर से ठोस कदम उठाया जाएगा।


उत्तराखंड पर शीर्ष समाचार