भागने से पहले अरुण जेटली से मिले थे विजय माल्या?: कांग्रेस

Edited by: Editor Updated: 14 Mar 2016 | 07:10 PM
detail image

नई दिल्ली: हज़ारों करोड़ रुपये का कर्ज़ लेकर देश से भाग निकलने वाले उद्योगपति विजय माल्या पर कांग्रेस ने सरकार को घेरा है और पांच तीखे सवाल पूछे हैं. कांग्रेस ने पूछा कि क्या विजय माल्या भागने से पहले जेटली से मिले थे? क्या जेटली ने माल्या को लेकर मोदी से बात की थी?

इसके साथ ही कांग्रेस ने सोमवार को एक बार फिर आरोप लगाया कि मोदी सरकार विजय माल्या को बचा रही है. कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि शराब कारोबारी ‘डबल एनआरआई’ हो गए हैं. नॉन रीपेइंग इंडियन और नॉन रिटर्निंग इंडियन.

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा, “एक मार्च को माल्या संसद में थे. उन्होंने जेटली से बात और मुलाकात की. पूरी दुनिया जानती है कि उसके दूसरे दिन अचानक वो देश छोड़कर चले गए. हालात बता रहे हैं कि माल्या को देश छोड़ने की सलाह दी गई, क्योंकि उन्होंने तब देश छोड़ा जब सीबीआई, बैंक, सेबी, ईडी, एसएफआईओ, सर्विस टैक्स और इनकम टैक्स उनके खिलाफ जांच कर रहे थे.”

सुरजेवाला ने आगे कहा, “ये आधिकारिक हो चुका है कि माल्या सरकार के ‘फेयर एंड लवली स्कीम’ के तहत देश के बाहर गए हैं. वे सच्चे में डबल एनआईआई हो गए हैं- नॉन रीपेइंग इंडियन और नॉन रिटर्निंग इंडियन.”

इसके साथ ही सुरजेवाला ने 100 दिन के भीतर कालेधन की वापसी के वादे को नहीं निभाने के लिए भी सरकार को कोसा.